गोरखपुर

मुखबिरों को रोजगार देगी UP पुलिस, पिस्टल पकड़वाने पर इतना देगी कैश इनाम


उत्‍तर प्रदेश की मित्र पुलिस ने अपराध और अपराधियों पर लगाम लगाने के लिए* मुखबिर रोजगार योजना की शुरुआत की है. इसके तहत अपराध और अपराधियों की सूचना देने वाले को हजारों रुपए इनाम में दिए जाएंगे. यह योजना यूपी के बलरामपुर जिले में शुरू की गई है.


बलरामपुर के पुलिस अधीक्षक देव रंजन वर्मा की तरफ से जारी एक पम्पलेट में लिखा है, ‘घर बैठे हजारों रुपए कमाएं.* मुखबिर रोजगार योजना के तहत बलरामपुर पुलिस को अपराधियों के बारे में सूचना दें और हजारों रुपयों का इनाम पाएं.’** फ़िलहाल बलरामपुर पुलिस का यह पर्चा सोशल मीडिया पर वायरल है.


इनामी राशि का जिक्र
अपराध के अनुसार इनाम की राशि का भी जिक्र किया गया है. एक चोरी की गाड़ी पकड़वाने पर 1 हजार रुपए का नकद इनाम दिया जाएगा. वहीं, एक कट्टा (तमंचा) पकड़वाने पर भी एक हजार का इनाम मिलेगा. अगर किसी ने अवैध पिस्टल या रिवाल्वर पकड़वाई तो उसे 5 हजार का नकद इनाम दिया जाएगा.

मुखबिर को यह सूचना पुलिस अधीक्षक बलरामपुर को मोबाइल पर देनी होगी. सूचना देने वाले की पहचान गुप्त रखी जाएगी. इतना ही नहीं सूचना सही पाए जाने पर नकद या बैंक अकाउंट में इनाम की राशि जमा करा दी जाएगी.


योजना का दिख रहा असर
पिछले महीने ही जिले के कप्तान बने देव रंजन वर्मा ने मुखबिर रोजगार योजना की शुरुआत की है. इसके तहत पुलिस गांव-गांव में जाकर इस योजना की मुनादी भी करवा रही है. इसके तहत कोई भी व्यक्ति अपराध की सूचना देकर घर बैठे ही हजारों कमा सकता है. इस योजना का असर भी देखने को मिल रहा. पुलिस अधीक्षक का कहना है कि कुछ ही दिन पहले शुरू हुई इस योजना से अब तक 6-7 मामले पुलिस ने वर्क आउट किए हैं. जिनमें प्रमुख मामला था सहारनपुर से एक ट्रक चोरी का. इस मामले में मुखबिर को 10 हजार रुपए का नकद इनाम भी दिया गया

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सबसे ज्यादा पढ़ी गई खबर

To Top