अन्य जिलें

दोस्त के फोन से सिम चोरी कर छात्र ने सराफ से मांगी 350 करोड़ की रंगदारी

आगरा की नमक की मंडी स्थित फर्म पीसी चेन्स के मालिक मनोज गुप्ता से उनकी ही फर्म के कर्मचारी नरोत्तम चौधरी के बेटे भरत चौधरी (18) ने फोन पर धमकी देकर 350 करोड़ की रंगदारी मांग ली। वो सर्विलांस की मदद से गुरुवार को पकड़ में आया तो इसका खुलासा हुआ। 

आरोपी छात्र ने दोस्त के डबल सिम वाले मोबाइल से एक सिम चोरी कर सराफ को धमकी देकर रंगदारी मांगी थी ताकि पुलिस उस तक न पहुंच सके। वो रातोंरात अरबपति बनने के सपने देखता था। इसे पूरा करने के लिए यह अपराध किया। उसने सोचा था कि 350 करोड़ मांगूगा तो 100 करोड़ तो मिल ही जाएंगे।
 
कमला नगर निवासी पीसी चेन्स के मालिक मनोज गुप्ता को मंगलवार शाम करीब साढ़े सात बजे धमकी भरा फोन कॉल आया। फोन करने वाले ने 350 करोड़ रंगदारी मांगी। इससे वो दहशत में आ गए। धमकी देने वाले ने खुद को बड़ा बदमाश बताया था, उसका अंदाज भी डरावना था। उन्होंने कोतवाली पुलिस को बताया। रकम सुनकर पुलिस भी चौंक गई। पुलिस को शक हुआ कि यह काम किसी पेशेवर बदमाश का नहीं है।
साजिश : धमकी के लिए रिचार्ज कराया सिम
सीओ कोतवाली चमन सिंह चावड़ा ने बताया कि पुलिस ने सर्विलांस टीम को लगाया। जिस सिम से कॉल की गई, वो नगला देवजीत निवासी राहुल के नाम पर रजिस्टर्ड था। पुलिस राहुल तक पहुंच गई। 

उसने इस तरह का कोई कॉल करने से इनकार कर दिया। सर्विलांस की मदद से पता चला कि सिम काफी दिन से बंद भी था। सर्विलांस टीम ने बताया कि  सिम भरत के मोबाइल में इस्तेमाल किया गया है। इसे धमकी दिए जाने से पहले रिचार्ज कराया गया।

चाल : 15 लाख तो मैं शूटरों को दे देता हूं

सीओ चमन सिंह चावड़ा ने बताया कि आरोपी नगला देवजीत निवासी भरत चौधरी उर्फ प्रियांशु इंटरमीडिएट की परीक्षा पास कर चुका है। उसके पिता नरोत्तम कारोबारी की फर्म में काम करते हैं। काफी बुजुर्ग हैं। उसने पिता से सुना था कि मनोज गुप्ता के पास काफी पैसा है। 
 
नगला देवजीत निवासी दीपक भी उनकी फर्म में काम करता है। उसे लगा कि एक फोन करके रुपये मिल जाएंगे। वो ज्यादा रकम मांगना चाहता था। भरत ने बताया कि वो कारोबारी से ज्यादा रकम लेना चाहता था। इसलिए कहा था कि 10-15 लाख तो शूटरों को देता हूं। इससे कारोबारी डर गए थे।

धमकी : जान प्यारी है तो 350 करोड़ का इंतजाम कर लो

भरत ने बदमाशों के अंदाज में धमकी दी। कारोबारी से कहा कि जान प्यारी है तो 350 करोड़ का इंतजाम कर लो, किसी तरह की चालाकी नहीं करना। पुलिस को बताया तो ठीक नहीं होगा। जान से हाथ धोना पड़ सकता है। रकम कहां और कब देनी है यह बाद में बताया जाएगा। इसके बाद फोन काट दिया गया।

खुलासा : राहुल ने बताया, भरत ने मोबाइल लिया था

पुलिस ने राहुल से भरत चौधरी के बारे में जानकारी ली। उसने बताया कि भरत ने उसका मोबाइल लिया था। वो इसे खोलकर देख रहा था। इसी दौरान चोरी से सिम निकालकर ले गया। वो सिम काफी समय से बंद था। पुलिस ने भरत को पकड़ लिया। उसने कॉल करने की बात कबूल कर ली। उसे शुक्रवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा। 

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सबसे ज्यादा पढ़ी गई खबर

To Top