जिलेवार खबरें

राजभर को मिल सकती हैं दो सीटें,अनुप्रिया का मिर्जापुर से लड़ना तय माना जा रहा

लोकसभा चुनाव 2019 का कार्यक्रम जारी हो जाने के बाद भाजपा के सहयोगी अपना दल (सोनेलाल) और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के नेताओं की बेचैनी बढ़ सी गई है। इन दोनों दलों को किन लोकसभा सीटों से चुनाव लड़ना है, अभी तय नहीं है। दोनों दलों की असल चुनावी तैयारी इनके लिए भाजपा द्वारा छोड़ी जाने वाली सीटों की घोषणा के बाद नजर आएगी।

लोकसभा चुनाव में मनमाफिक सीटें पाने के लिए दोनों दल पिछले कुछ महीनों से लगातार भाजपा पर दबाव बनाए हुए थे। जिसके बाद इनकी बैठकें कुछ दिनों पूर्व भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के साथ हुई थी। तब से दोनों दलों के नेता भाजपा नेतृत्व के फैसले के इंतजार में हैं।

अमित शाह के आश्वासन पर इन दोनों दलों को आयोगों और निगमों में प्रतिनिधित्व देकर प्रदेश भाजपा ने इन्हें साथ लेकर चलने का स्पष्ट संकेत भी दे दिया है। दोनों दलों के शीर्ष नेतृत्व की मानें तो भाजपा से सीटों के बंटवारे पर अभी कोई ठोस बात नहीं हो सकी है। दोनों को उम्मीद है कि बहुत जल्द सीटों का बंटवारा हो जाएगा।

प्रदेश सरकार में मंत्री तथा सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने सीटों को लेकर बड़ी उम्मीदें पाल रखी हैं। श्री राजभर के मुताबिक यदि उनसे पूछा जाएगा तो वे पूर्वांचल की घोसी, अंबेडकरनगर, जौनपुर, चंदौली और सलेमपुर की सीटों पर दावा करेंगे। श्री राजभर का कहना है कि उनकी तैयारी प्रदेश की सभी सीटों पर है, जो भी सीटें मिलेंगी वहां वह मजबूती से चुनाव लड़ेंगे। चर्चा यह है कि भाजपा राजभर को पूर्वांचल की दो सीटें दे सकती है। .

केंद्रीय राज्यमंत्री तथा अपना दल (सोनेलाल) की संरक्षिका अनुप्रिया पटेल का फिर से मिर्जापुर सीट से चुनाव लड़ना तय माना जा रहा है। इसके अलावा अद (एस) ने आधा दर्जन से अधिक सीटें मिलने की आस लगा रखी है। इस दल की प्राथमिकता वाली सीटों में मिर्जापुर के साथ ही जौनपुर, फूलपुर, राबर्ट्सगंज, डुमरियागंज तथा प्रतापगढ़ हैं।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सबसे ज्यादा पढ़ी गई खबर

To Top