अन्य जिलें

प्रियंका की गिरफ़्तारी लोकतांत्रिक व्यवस्था पर करारा तमाचा: कांग्रेस

 कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी जी की गिरफ्तारी लोकतांत्रिक व्यवस्था पर करारा तमाचा है। देश लोकतांत्रिक तरीके से संबैधानिक व्यवस्था के अनुरूप चलता है।

कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता अमित गुरु ने सोनभद्र में हुए नरसंहार पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में भाजपा की योगी सरकार कानून व्यवस्था कायम करने में नाकाम हो गयी है। प्रदेश में बड़े पैमाने पर नरसंहार हुआ है,पीड़ितों की सुनने वाला कोई नही है। 200 लोग असलहों के बल पर तकरीबन आधे घण्टे तांडव करती है,पुलिस घण्टो बाद पहुंचे तो आप क्या कहेंगे? सम्भल में दो पुलिस कर्मियों की हत्या को क्या कहेंगे?अघोषित आपातकाल यही है,जहाँ जघन्य घटनाओं के बाद पीड़ितों के साथ खड़े विपक्ष की आवाज को कुचला जाता है।

प्रियंका गांधी जी की गिरफ्तारी से यह साबित होता है कि प्रदेश सरकार इस जघन्य नरसंघार में बहुत कुछ छिपाना चाहती है। कांग्रेस पार्टी उप्र सरकार की ऐसी व्यवस्था का प्रतिकार करती है जहां आम अवाम यहां तक कि आदिवासी समुदाय भी डर के साए में जी रही हो। प्रियंका गांधी ने आगे बढ़कर इन पीड़ितों के दर्द को जानना चाहा, पुलिस ने मौके पर जाने नही दिया और उल्टे प्रियंका गांधी जी के साथ साथ पार्टी के अन्य नेताओं को गिरफ्तार कर लिया।

प्रियंका गांधी जी को अकारण बिना किसी सरकारी या न्यायिक आदेश के उन्हें रोकना और बाद में गिरफ्तार करना लोकतंत्र की हत्या करने जैसा है। प्रियंका जी के नेतृत्व की इस लड़ाई में हम लाखो कांग्रेसी उनके कदम के साथ हैं उस कदम के साथ जो आम अवाम के हक और हुकूक की लड़ाई उत्तर प्रदेश में लड़ रही है।

अमित गुरु ने कहा कि सोनभद्र में जमीन से जुड़े विवाद को लेकर हुए नरसंहार मामले में चौंकाने वाली बात सामने आ रही है। आरोपी यज्ञ दत्त, जमीन पर कब्जा करने के लिए 32 ट्रैक्टर ट्रॉलियों में लगभग 200 लोगों को लेकर पहुंच था।

आदिवासियों के विरोध के बाद भी प्रधान और उसके लोगों ने आधे घंटे तक उन पर गोलीबारी की।फायरिंग करीब आधे घंटे चली। ऐसा बीभत्स रूप शायद देखने को मिले। इतनी बड़ी नाकामी के बाद भी अगर कोई व्यक्ति अपने पद पर बना रहता है तो इसे लोकतांत्रिक मूल्यों की गिरावट और मानवीय पहलू के ह्रास का प्रतीक ही माना जाएगा। पीड़ित परिवारों को न्याय दिलाने के लिए कांग्रेस सदन से लेकर सड़क तक संघर्ष करेगी!

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सबसे ज्यादा पढ़ी गई खबर

To Top