जिलेवार खबरें

एस पी को प्राथना पत्र देकर मा ने निर्दोष लड़के को छोडे जाने की लगायी गुहार

देवेंद्र कुशवाहा,

मऊ । पुलिस मानवाधिकार का उल्लंघन किस तरह से करती है इसका जीता जागता उदाहरण स्थानीय कोपागंज पुलिस द्वारा एक युवक को पिछले दो दिनों से लूटपाट की घटना में पूछताछ के लिए अपने हिरासत में रखी हुई है। पूछताछ और घटना में शामिल न होने के बावजूद स्थानीय पुलिस युवक को क्यों पुलिस क्यों थाने में बैठायी है इसका जबाब पुलिस के पास नहीं है। इस सम्बन्ध में में लूट की घटना के खुलासे के लिए पुलिस हिरासत में लिए गए युवक के पूछताछ के दौरान निर्दोष साबित होने के बाद भी स्थानीय पुलिस युवक को दो दिनों से अपने कस्टडी में रखे जाने पर कुर्थी जाफरपुर निवासनी युवक की मा मीरा देवी ने एस पी को लिखित प्राथना पत्र देकर अपने पुत्र छोड़े जाने की गुहार लगाई है। पत्र में युवक की मा ने लिखा है पिछले शुक्रवार को स्थानीय थाना क्षेत्र के निजामुद्दीन पुर गांव के पास एक बाइक सवार समूह के एजेंट से करीब पचास हजार रुपये लूट की बाद घटना के में पूछताछ के लिए मेरे लड़के को मछली पकड़ने के दौरान पुलिस पकड़ कर थाने लेकर चली आयी। इस सम्बन्ध में पुलिस के पूछताछ और और एजेंट के द्वारा पहचान के दौरान लूट के घटना में शामिल होने के इन्कार के बाद भी पुलिस मेरे लड़के को बेवजह थाने में बैठायी है।पुलिस अधीक्षक को दिये गये प्राथना पत्र में युवक की मा ने न्याय की गुहार लगाते हुए कहा कि मेरा लड़का बेकसूर है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सबसे ज्यादा पढ़ी गई खबर

To Top