जिलेवार खबरें

संतकबीरनगर से होकर गुजरेगा गोरखपुर-आजमगढ़ लिंक एक्सप्रेस-वे

गोरखपुर-आजमगढ़ लिंक एक्सप्रेस-वे संतकबीरनगर से भी होकर गुजरेगा। इसमें धनघटा तहसील क्षेत्र के चार गांव के किसानों की करीब 21 हेक्टेयर जमीन आ रही है। लगभग 4.2 किलोमीटर की दूरी में इसका निर्माण कार्य होगा जिसके लिए शासन द्वारा 30 करोड़ रुपये की धनराशि स्वीकृत हुई है।

एडीएम संजय कुमार पांडेय ने बताया कि गोरखपुर-आजमगढ़ लिंक एक्सप्रेस-वे संतकबीरनगर के धनघटा तहसील क्षेत्र के चारों गांव से होकर जाएगा। इसमें सरैया, गुनवतियां, भौवापार और सुअरहा गांव शामिल है। जिले की सीमा में 4.2 किलोमीटर की दूरी में सड़क निर्माण होना है। इसमें करीब 20.813 हेक्टेयर जमीन ली जानी है जिसमें 19.1319 हेक्टेयर जमीन किसानों से अधिग्रहीत की जा चुकी है।
इसके लिए 30 करोड़ रुपये स्वीकृत किए गए हैं। 237 किसानों में करीब नौ करोड़ रुपये का भुगतान किया जा चुका है। वैसे अभी 1.33219 हेक्टेयर जमीन का अधिग्रहण बाकी है। करीब 22 किसानों से जमीन का बैनामा कराकर उन्हें भुगतान किए जाने की प्रक्रिया शेष रह गई है।
 
एडीएम ने लिंक एक्सप्रेस-वे निर्माण कार्य का जायजा लिया
एडीएम ने बताया कि लिंक एक्सप्रेस-वे गोरखपुर के जैतपुर बाईपास से शुरू होगा जो आजमगढ़ के सलारपुर के पास तक जाएगा। गोरखपुर, संतकबीरनगर, अंबेडकरनगर और आजमगढ़ जिला इसमें शामिल हैं। 91.35 किलोमीटर दूरी तक गोरखपुर-आजमगढ़ लिंक एक्सप्रेस-वे बनाया जाएगा जो पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे में जाकर जुड़ जाएगा।

जिन किसानों से भूमि का अधिग्रहण नहीं हो पाया है, उसके लिए एसडीएम धनघटा और तहसीलदार को निर्देश दिए गए हैं कि जल्द प्रक्रिया पूरी कराएं। इसके बन जाने से गोरखपुर से अंबेडकरनगर, आजमगढ़, गाजीपुर, बलिया, वाराणसी आदि जनपदों में सफर करना निश्चित ही आसान हो जाएगा।

एडीएम संजय कुमार पांडेय ने शुक्रवार को गोरखपुर-आजमगढ़ लिंक एक्सप्रेस-वे के चल रहे निर्माण कार्य का जायजा लिया। एडीएम ने बताया कि करीब चार किलोमीटर की दूरी तक मिट्टी पटाई का कार्य भी पूर्ण हो चुका है। 40 मीटर की दूरी तक मिट्टी पटाई का काम शेष है। मौके पर मौजूद कार्यदायी संस्था के जिम्मेदार को हिदायत दी गई कि गुणवत्ता पूर्ण तरीके से काम कराएं। तहसीलदार को निर्देश दिया गया कि समय-समय पर इसका निरीक्षण करके रिपोर्ट प्रेषित करें।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सबसे ज्यादा पढ़ी गई खबर

To Top