गोरखपुर

कैंपियरगंज पुलिस ने 8 माह से मृतक घोषित रेनू साहनी को जिंदा कानपुर से किया बरामद

एसएसपी डॉ सुनील गुप्ता पुलिस अधीक्षक उत्तरी अरविंद कुमार पांडेय सहायक पुलिस अधीक्षक रोहन प्रमोद बोत्रे तथा थाना प्रभारी कैंपियरगंज के वजह से निर्दोष व्यक्ति जेल जाने से बचे

गोरखपुर। करमैनी घाट के मेले से गायब चल रही कैम्पियरगंज थाने पर मृतका की फोटो दिखाने पर मृतका को अपनी बहन रेनू बताने लगी जिसके बाद इनको बीआरडी मेडिकल कॉलेज के मोर्चरी में मृतका की शिनाख्त हेतु भेजा गया जहां मृतका का चेहरा खुलवाकर इंद्रजीत साहनी व मां लीलावती द्वारा शिनाख्त की गई बताई कि यह मेरी बहन रेनू साहनी है पोस्टमार्टम के बाद शव को अपने सुपुर्दगी में लेकर मृतका की मां द्वारा उसका क्रिया कर्म किया गया मृतका की मां अपने बयान में व जरिए प्रार्थना पत्र बार-बार यही बयान दिया कि मेरी पुत्री रेनू की हत्या मेरे ही गांव रामूघाट थाना पीपीगंज निवासी के रहने वाले रामसजन व उसके पुत्र ज्ञानेंद्र द्वारा की गई है बार-बार गिरफ्तारी का दबाव बनाया जा रहा था इस मामले को गंभीरता से वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ सुनील गुप्ता ने लेते हुए पुलिस अधीक्षक उत्तरी अरविंद कुमार पांडेय व क्षेत्राधिकारी कैंपियरगंज /सहायक पुलिस अधीक्षक रोहन प्रमोद बोत्रे तथा प्रभारी निरीक्षक कैम्पियरगंज राणा देवेंद्र सिंह के नेतृत्व में 28-11-18 से मृतक चल रही मृतका रेनू साहनी पुत्री ब्रह्मदेव साहनी निवासी रामूघाट थाना पीपीगंज अपना नाम पता बदल कर छिप छिप कर अपने पति आनंद पुत्र राम सूरत निवासी ग्राम पलिया लोहानी थाना इनायतनगर मिल्कीपुर अयोध्या के साथ कानपुर में रह रही थी कभी-कभी छुप-छुप कर अपने परिवार वालों से मिलने आती थी ज्ञात हुआ कि रेनू की मां चंद्रावती पत्नी ब्रह्मदेव साहनी निवासी ग्राम रामूघाट थाना पीपीगंज द्वारा एक पुरानी रंजिश के चलते अपने ही गांव के रामसजन व ज्ञानेंद्र को फसाने के लिए मृतका की गलत शिनाख्त अपनी जिंदा पुत्री रेनू साहनी के रूप में की गई थी जो मुखबीर की सूचना पर उसे कानपुर से गिरफ्तार किया गया और पुलिस की मेहनत से निर्दोष व्यक्ति जेल जाने से बच गया गिरफ्तार होने वालों में रेनू साहनी पत्नी आनंद मिश्रा आनंद पुत्र रामसूरत चंद्रावती पत्नी ब्रम्हदेव इंद्रजीत साहनी पुत्र शिव पूजन लीलावती पत्नी इंद्रजीत साहनी को पुलिस ने गिरफ्तार किया।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सबसे ज्यादा पढ़ी गई खबर

To Top