जिलेवार खबरें

बस्ती :विज्ञान को लोकप्रिय बनाने के लिए संचारक को मिलेगा राष्ट्रीय पुरस्कार

राकेश गिरी,
बस्ती |

बस्ती । बच्चों में विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के व्यापक प्रचार प्रसार करने में असाधारण प्रयास करने के लिए जिले की किसान सेवा संस्थान को वर्ष 2019 के लिये भारत सरकार के राष्ट्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी संचार परिषद द्वारा विज्ञान दिवस 28 फरवरी को विज्ञान भवन नयी दिल्ली में पुरस्कृत किया जायेंगा।
किसान सेवा संस्थान के अध्यक्ष अतुल शुक्ला को भेजे गये पत्र में संचार परिषद के सलाहकार और प्रमुख डाॅ0 अखिलेश गुप्ता ने बताया है कि इस वर्ष विज्ञान दिवस भव्य रूप से मनाया जायेंगा। पुरस्कार में नगद धनराशि के अतिरिक्त प्रतीक चिन्ह और प्रसस्ति पत्र दिया जायेंगा।
किसान सेवा संस्थान के अध्यक्ष अतुल शुक्ल ने बताया कि सस्थान की स्थापना 17 अगस्त 1991 को उ0प्र0 के अति पिछड़े जनपद बस्ती के बनकटी ब्लाक में ग्रामीण विकास महिला उत्थान बच्चों के सार्वांगीण विकास हेतु किया गया। संस्था अपने उद्देश्यों के प्रति निरन्तर प्रयासरत है। संस्था महिला एवं बच्चों हेतु बस्ती मण्डल एवं देवी पाटन मण्डल सहित कुल 10 जनपद में कार्यरत है।
संस्था कम्युनिटी रेडियों के माध्यम से विज्ञान का प्रचार-प्रसार, अन्ध विश्वास को दूर करना, महिलाओं एवं बच्चों में विज्ञान के प्रति रूचि पैदा किया जा रहा है। उपरोक्त सराहनीय कार्य को देखते हुए सूचना प्रसारण मंत्रालय भारत सरकार द्वारा संस्था को 27 अगस्त 2019 को राष्ट्रीय अवार्ड प्रदान किया गया तथा संस्था विज्ञान प्रदर्शनी के माध्यम से बच्चों में विज्ञान के चमतकार एवं उसके महत्व के बारे में विस्तार से वाद-सम्वाद प्रतियोगिता, अन्ध विश्वास को दूर करना तथा स्वच्छता एवं स्वच्छ जल के महत्व एवं उपयोगिता के बारे में जानकारी प्रदान कर रही है।
संस्था द्वारा विगत कई वर्षो से विभिन्न जनपदों के विभिन्न स्कूलों में बच्चों को कानपुर एवं आगरा ले जाकर औद्योगिक भ्रमण कराया गया, जिससे बच्चों के मन में विज्ञान के प्रति रूचि जाग्रित हो सके। संस्था द्वारा साइन्स आन व्हील (चलित विज्ञान बस प्रदर्शनी) के माध्यम से उ0प्र0 के दस असेवित जनपदों के विभिन्न स्कूलों एंव चैराहों पर संस्था के अनुभवी वैज्ञानिको द्वारा छात्रों एवं ग्रामीणों को विज्ञान के प्रति जागरूक किया गया एवं विज्ञान के महत्व के बारे में बताया गया। विभिन्न ब्लाको में गोष्ठियों के माध्यम से अशुद्ध जल को शुद्ध कैसे किया जाता है के बारे में जानकारी दी गयी एवं शुद्ध जल के उपयोग से कितना लाभ होता है एवं किन-किन रोगों से बचा जा सकता है। इससे विभिन्न स्कूलों के छात्रों, अध्यापको एवं ग्रामीण पुरूष व महिलाए विशेष रूप से जागरूक हुयी।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सबसे ज्यादा पढ़ी गई खबर

To Top