जिलेवार खबरें

बलिया में परशुराम जयंती पर किया पूजा अर्चना

संजय कुमार तिवारी
रतसर (बलिया)। क्षेत्र के जनऊपुर गांव स्थित श्री हनुमान मन्दिर परिसर में मंगलवार को परशुराम जयंती पर विप्रजनों ने अपने अराध्य परशुराम भगवान की विशेष पूजा अर्चना की।सुबह मन्दिर परिसर में देवी देवताओं का आह्वान के साथ पूजन का क्रम आरम्भ हुआ। सुन्दरकाण्ड का पाठ और हनुमान चालीसा का पाठ किया गया। भजन कीर्तन का क्रम अखण्ड चलता रहा। हवन विसर्जन के बाद श्रद्धालुओं ने भगवा झण्डे और धर्म पताकाओं के साथ परशुराम के जयकारे लगाते हुए हाथी, घोड़े, ऊंट एवं गाजे-बाजे के साथ क्षेत्र में आकर्षक झांकियों के साथ भव्य शोभायात्रा निकाली।

इस अवसर पर आयोजित विचार गोष्ठी को संबोधित करते हुए राज्यपाल पुरस्कार से सम्मानित शिक्षाविद पं० श्रीकान्त पाण्डेय ने कहा कि समाज में ब्राह्मण का एक अलग सम्मान है इनकी पहचान भगवान परशुराम द्वारा स्थापित आदर्शों से है। इसे धुमिल ना होने दे पाश्चात्य संस्कृति के मोह से ना बंधे।उन्होने भारतीय संस्कृति के आधार पर जीवन जीने पर बल दिया। पं० सक्षम पाण्डेय ने कहा कि हमेशा से सम्पूर्ण समाज का प्रतिनिधित्व ब्राह्मण समाज ने ही किया है कहा कि आज हम सभी को आत्म अवलोकन करने की आवश्यकता है।

जनऊ बाबा साहित्यिक संस्था निर्झर के संयोजक पं० धनेश शास्त्री ने कहा कि हम सब भगवान परशुराम के वंशज है। परशुराम जयन्ती मनाना तभी सार्थक होगा जब भगवान परशुराम के पदचिन्हों पर चलकर उनके आदर्शो को आत्मसात किया जाए। इस अवसर पर अमृत, शुभम, नवनीत, राज, मोना, विशाल, अभिषेक, निरंजन, अमन शुक्ला, रितेश मिश्रा, अभिजीत, सुधांशु, कौशल, बब्लू ,आशुतोष उपाध्याय,अक्षय मिश्रा, अंकित पाण्डेय, सुशील चौबे, अवधेश चौबे, सुनीत एवं सत्यम मौजूद रहे।

कार्यक्रम की अध्यक्षता पं० प्रेमनारायण पाण्डेय एवं संचालन व्यास पं० मुकेश गर्ग ने किया।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सबसे ज्यादा पढ़ी गई खबर

To Top